Sunday, 7 February 2016

IAS बनने का सपना देख रहे हैं तो ये लेख जरुर पढ़ें !



दोस्तों अगर आप सिविल सर्विसेज की तैयारी कर रहे हैं तो फेसबुुक पर लिखे गए शिवा ठाकुर शिवा जी का ये लेख जरुर पढ़े. कम शब्दों में शिवा जी ने मार्के की बात कही है. यूं समझ लीजिए ये लेख गागर में सागर के समान है. तो थोड़ा-सा वक्त निकाल कर जरुर से शिवा जी का ये लेख पढ़ें. हम ये लेख शिवा जी के फेसबुक वॉल से साभार ले रहे हैं. 


Shiva Thakur Shiva to IAS toppers
@-------------- शुप्रभात मित्रों --------------@
आप आईएएस बनने का सपना देख रहे हैं और तय नहीं कर पा रहे हैं कि शुरुआत कैसे करें तो ये आर्टिकल आपकी जरूर मदद करेगा। अपने सपने को पूरा करने के लिए आपको जरुरत है आपको स्ट्रैटिजी बनाने की।
कैंडीडेट मेन्स की तैयारी एक साल पहले से ही शुरू कर दें। उसके साथ ही प्रीलिम्स की भी तैयारी करें। इसका फायदा यह होगा कि प्रीलिम्स और मेन्स के बीच का जो 3 महीने का समय मिलेगा, उसका इस्तेमाल रिवीजन के लिए कर सकेंगे।
ऐसे करें तैयारी
कैंडीडेट के लिए सबसे जरूरी है कि वह प्रीलिम्स को मेन्स से अलग करके न देखे। उसकी तैयारी भी मेन्स के साथ ही होनी चाहिए।
प्रीलिम्स में 2 पेपर होते हैं। एक जरनल स्टडीज का और दूसरा ऐप्टिट्यूड का। जनरल स्टडीज की तैयारी आप अगर अच्छे से डिटेल में करते हैं तो उससे प्रीलिम्स भी कवर हो जाएगा।
जब आपका प्रीलिम्स नजदीक आ जाए तो उस समय ऐप्टिट्यूड टेस्ट पर फोकस करें। ऐप्टिट्यूड टेस्ट के इंग्लिश और मैथ्स दसवीं स्टैंडर्ड पर ही बेस्ड होते हैं इसलिए ज्यादा से ज्यादा प्रैक्टिस करें।
क्वांटम, डेटा अनैलेसिस और इंग्लिश पर कमांड प्रैक्टिस से आएगी। पहले पेपर का वह पोर्शन टच करें जिसमें आपकी स्ट्रैंथ है।
तैयारी करने से पहले पेपर और क्वैश्चन का पैटर्न समझना सबसे जरूरी है। पिछले सालों के क्वैश्चन बैंक से इससे मदद मिल सकती है। क्वैश्चन ओपनियन और एनालसिस से जुड़े पूछे जाते हैं। आप अपना कांसेप्ट क्लियर रखें।
एग्जामनर आपके नॉलेज के साथ ही थिंकिंग प्रॉसेस को भी चेक करता है। जनरल स्टडीज का सिलेबस काफी बड़ा है। इसमें एथिक्स, इमोशनल एंटलिजेंस जैसे पार्ट बढ़े हैं।
हमें वरायटी ऑफ टॉपिक्स पर फोकस करना होगा। ऐसे में तैयारी केवल बुक बेस्ड नहीं चलेगी। न्यूज पेपर और इंटरनेट से मदद लेनी होगी।
जो आपका आप्शनल सब्जेक्ट है उसमें बहुत कुछ चेंज होने वाला नहीं है। इसकी तैयारी आपकी पहले से ही होगी। इसलिए इस पर कम और जनरल स्टडीज पर अधिक समय दें।
जनरल स्टडीज में जो आपने पहले तैयारी की है उसको लेटेस्ट डिवलपमेंट से लिंक करे उसे कंटमप्ररी बनाने की कोशिश करें।
इसके लिए रिव्यूज, करेंट अफेयर्स पर ध्यान दें। सबसे अहम बात है टाइम मैनेजमेंट।
-----------shivu ---------------------------
अगर ये लेख अच्छा लगाा तो नीचे फेसबुक शेयर का बटन जरुर दबाएं, ताकि दूसरों का भी भला हो.

GK से जुड़े अपडेट पाने के लिए Page Like करें

Search

Total Pageviews